मंगलवार, 25 दिसंबर 2012

जानें देश का हित किसमें

         जानें देश का हित किसमें 

मोदी-मोदी बस मोदी का लहर जगा है जाग गई है जनता
अब किस बात की देर भलाई सौंपो मोदी के हाथों में सत्ता,

पंथ,जाति,धर्म का कुष्ठ रोग मिटा,खुला बुद्धि विवेक का पत्ता
'विजय 'चरण चूमता कद्दावर मोदी का देकर विपक्ष को धत्ता,

इन्तज़ार लहरा रहा लाल किले पर हाथों मोदी के तिरंगा लत्ता
चेत लो अब से भी वरना बह जायेगा देश ये जैसे पानी में गत्ता,

दंगा,हिंसा करवाते राजनीतिक विरोधी लगता मोदी पर धब्बा
सांप्रदायिक,नकारात्मक पहलू दर्शाना देख रहा सच्चाई रब्बा,

एक जुट होगा वह दिन दूर नहीं अब जिस दिन देश का जत्था
करिश्माई,स्वच्छ,निराले नेता पर वर्ग विशेष भी टेकेगा मत्था,

बाकि है कसर थोड़ी यदि भ्रमित भाई भी रक्खें सिर पे हत्था
कर विपक्षियों को अनसुना दिल मिला लें जैसे पान में कत्था,

आशंका से घिरे बहकावे में बागीजन अंतर की सुनें अलबत्ता
किसमें खुद नजर आता दूरदर्शिता, स्पष्टता,दृढ़ता,प्रतिबद्धता,

फांस निकालो दिल से हो केवल तुम 'भारतीय' लिखा लो पट्टा
बहुमत से जीताकर देखो भाई इक बार लगा लो ऐसा भी सट्टा,

दल छोड़ सुर विरोधी राग छेड़,हुआ क्या ऐसा प्राप्त केशु बप्पा
इक दिन गुणगान करेगा नरेन्द्र मोदी का धरती का चप्पा-चप्पा ।
                                                                                            

शैल सिंह                                                


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

बड़े गुमान से उड़ान मेरी,विद्वेषी लोग आंके थे ढहा सके ना शतरंज के बिसात बुलंद से ईरादे  ध्येय ने बदल दिया मुक़द्दर संघर्ष की स्याही से कद अंबर...